तुम हो… (Love Shayari)

Follow us by #4thdiary

तुम हो…

 

यहाँ, अभी
सिर्फ तन्हाई है
और
तुम्हारी याद है।
दर्द का एहसास है,
और
तुम्हारे प्यार का खुमार है।
तुम नहीं हो,
मुझे शिकायत है,
दूर हो, फिर भी तुम हो,
इसलिए मुझे राहत है।
यहाँ, अभी
खामोशी की धुन में
सिर्फ तुम्हारा ही दीदार है।
तुम मेरे हो,
बस यहीं सच नजर आ रहा है।

 

Written by- Anjali Bharati